slide3-bg



पल भर क्रोध आपका भविष्य बिगाड़ सकता है: श्री ललितप्रभ रविवार को हजारों श्रद्धालु दीप जलाकर मनाएंगे गुरु पूर्णिमा

बेंगलुरु

08 Jul 2017

राष्ट्र-संत श्री ललितप्रभ महाराज ने कहा है कि हमारा पल भर गुस्सा हमारा भविष्य बिगाड़ सकता है। क्रोध को अपने जीवन का हिस्सा मत बनाइए। यह एक ऐसी आग है जो जलती तो है दूसरे को जलाने के लिए, पर अंततरू हमें ही जला बैठती है। यचिंगारी की तरह उठती है, पर ज्वालामुखी की तरह धधकती है। गुस्से में अगर आप नौकरी छोड़ देते हैं तो केरियर बर्बाद होगा। मोबाइल तोड़ रहे हैं तो धन बर्बाद होगा। दीवार से सिर टकरा रहे हैं  तो शरीर बर्बाद होगा और परीक्षा नहीं दे रहे हैं तो वर्ष बर्बाद होगा।
श्री ललितप्रभ यहाँ श्रद्धालुओं से खचाखच भरे मराठा हॉस्टल मैदान में क्रोध से छुटकारा पाने का शर्तिया उपाय विषय पर जनमानस को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अपने गुस्से पर नियंत्रण कीजिए। यह आपके स्वर्ग सरीखे घर को नरक बना रहा है और मधुर संबंधों में खटास घोल रहा है। उन्होंने कहा कि गुस्सा करना दुर्भाग्य है तो प्रेम करना सौभाग्य है। गुस्से में आपके कारण किसी की आँख में आँसू आते हैं, पर प्रेम में आपके लिए दूसरों की आँखों में आँसू आते हैं।

संतप्रवर ने कहा कि अगर आप घर में बड़े हैं तो बड़प्पन भी रखिए। ज्यादा चीखने-चिल्लाने से घर का वातावरण कलुषित होता है। कृपया नरम लफ्जों में ठोस बात कहिए। कड़क भाषा में हल्की बात मत कीजिए। आप गुस्सा बहुत कर चुके हैं और उसके अशुभ परिणाम भी देख चुके हैं। सबसे प्रेम करना शुरू कीजिए और अपने जीवन में शुभ परिणाम का सूर्योदय देखिए। राष्ट्र-संत ने सावधान करते हुए कहा कि गुस्सा हथौड़ा है और प्रेम चाबी है। हथौड़ा से ताला टूटता है और चाबी से खुलता है। अपनी भाषा में प्लीज,थैंक्स और सॉरी जैसे शब्दों का पुनरूपुनरू प्रयोग कीजिए। इससे संबंधों में मिठास घुलेगा। नाराज होने पर किसी को सजा देने से पहले दो बार साचिये, दूसरों से गलती होने पर माफ  कर दीजिए और खुद से गलती हो तो माफी मांगने में संकोच मत खाइये। अगर आप किसी की एक गलती को माफ करेंगे तो भगवान आपकी सौ गलतियों को माफ  कर देगा। संतप्रवर ने कहा कि सप्ताह में सातों दिन गुस्सा मत कीजिए। अगर सोमवार को गुस्सा आये तो अपने आप से कहिए आज सोमवार है सप्ताह की शुरुआत कलह से न हो। मंगलवार को यह सोचकर गुस्सा मत कीजिए कि मंगल को कौन-सा अमंगल! बुध को क्यों करें युद्ध? गुरुवार को सोचो आज गुरु का दिन है। शुक्रवार शुक्रिया अदा करने का वार है शनि को भूल से भी गुस्सा मत कीजिए, शनि की दशा लग सकती है। रविवार छुट्टी का दिन है - आज गुस्से की छुट्टी। गुस्सा छोडने के टिप्स बताते हुए राष्ट्र-संत ने कहा कि जहाँ तक संभव हो थोड़ी देर के लिए गुस्से को टाल दीजिए। कलुषित वातावरण में स्वयं को अनुपस्थित समझिए। पूर्व में किए गए गुस्से के परिणाम को याद कीजिए। क्रोध का जवाब मुस्कान से दीजिए और घर के आँगन की दीवार पर लिख दीजिए – मैं शांति और धैर्य से पेश आऊँगा।


Event Gallery


Our Lifestyle

Features